Actions

बहुश्रुत

From जैनकोष



ध. ८/३,४१/८९/७ बारसंगपारयाबहुसुदाणाम । = जो बारह अंगों के पारगामी हैं वे बहुश्रुत कहे जाते हैं ।

Previous Page Next Page