Actions

बोधपाहुड़

From जैनकोष



आ. कुन्दकुन्द (ई. १२७-१७९) कृत आयतन चैत्य गृह आदि ११ विषयों सम्बन्धी संक्षिप्त परिचायक ६२ प्राकृत गाथाओं में निबद्ध ग्रन्थ है । इस पर आ. श्रुतसागर (ई. १४८१- १४९९) कृत संस्कृत टीका और पं. जयचन्द छाबड़ा (ई. १८६७) कृत देशभाषा वचनिका उपलब्ध है । (ती./२/११४) ।

Previous Page Next Page