खाद्य

From जैनकोष

मू.आ./644.../खादति खादियं पुण...।644।=जो खाया जाये रोटी लड्डू आदि खाद्य है। ( अनगारधर्मामृत/7/13/667 ); ( लाटी संहिता/2/16-17 )।


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ