चंद

From जैनकोष

अपर विदेहस्य देवमाल वक्षार का कूट व देव–देखें लोक - 7


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ