चंदन षष्ठी व्रत

From जैनकोष

6 वर्ष तक प्रतिवर्ष भाद्रपद कृष्णा 6 को उपवास करे। उस दिन तीन काल नमस्कार मंत्र का जाप्य करे। श्वेतांबरों की अपेक्षा उस दिन उपवास की बजाय चंदन चर्चित भोजन किया जाता है। (व्रत-विधान संग्रह/पृ.86, 129) (किशन सिंह क्रिया कोश) (नवल साहकृत वर्धमान पुराण)।


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ