चंद्रतिलक

From जैनकोष



विजयार्ध की उत्तरश्रेणी में कनकपुर नगर के राजा गरुडवेग और उसकी रानी घृतिषेणा का छोटा पुत्र । दिवितिलक इसका बड़ा भाई था । महापुराण 63.164-166


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ