चंद्रहास

From जैनकोष



एक् खड्ग । रावण ने इसे साधनापूर्वक सिद्ध किया था । बालि मुनि के समझाने पर रावण ने इसे विरक्त भाव से त्याग भी दिया था पर युद्ध के कारण पुन: प्राप्त किया था । लक्ष्मण द्वारा चलाये गये सुदर्शन-चक्र पर रावण ने इसी खड्ग से प्रहार किया था । पद्मपुराण 8.36-37, 9.145,175, 76.32


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ