चतुर्थीविद्या

From जैनकोष



आन्वीक्षिकी, त्रयी, वार्ता और दंडनीति इन चार विद्याओं में चौथी विद्या-दंडनीति । महापुराण 51. 5


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ