* जीव शरीर सम्‍बंध व उसकी मुख्‍यता गौणता का समन्‍वय

From जैनकोष