एकचर्या

From जैनकोष



मुनियों का एक व्रत - एकाकी विहार करना । महापुराण 11.66


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ