एकट्ठी

From जैनकोष



दो के अंकको छः दफे वर्ग करनेसे जो संख्या आवे वह होगी। (त्रि.गा. 66)-देखें बृ जै.शब्दा.द्वि.खंड।


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ