चंद्रमाला

From जैनकोष



राजपुर नगर-निवासी कनकतेज वैश्य की पत्नी, सुवर्णतेज की जननी । महापुराण 75.450-453


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ