चतुर्दश महारत्न

From जैनकोष



चक्रवर्ती के चौदह महारत्न- सुदर्शन चक्र, छत्र, खड्ग, दंड, काकिणी, चर्म, मणि, पुरोहित, सेनापति, स्थपति, गृहपति, स्त्री, गज और अश्व । महापुराण 61. 95, 37.84, हरिवंशपुराण 11.108-109 चतुर्दश महाविद्या—उत्पादपूर्व आदि चौदह पूर्व । महापुराण 2.48,34, 147


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ