चतुस्त्रिंशत् महाद्भुत

From जैनकोष



अर्हंत के चौंतीस अतिशय- जन्म संबंधी दस, केवलज्ञान संबंधी दस और देवकृत चौदह । हरिवंशपुराण 2.67


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ