चमरचंपा

From जैनकोष



विजयार्ध की उत्तरश्रेणी के साठ नगरों में एक नगर । अपरनाम चमर । महापुराण 19.79, 87, हरिवंशपुराण 22.85


पूर्व पृष्ठ

अगला पृष्ठ